B.Com 3rd Year Security & Legal Aspects Of E-Commerce Notes

B.Com 3rd Year Security & Legal Aspects Of E-Commerce Notes :- E-Commerce Study Material Question Answer Examination Paper Sample Model Practice Notes PDF MCQ (Multiple Choice Questions) available in our site. parultech.com. Topic Wise Chapter wise Notes available. If you agree with us, if You like the notes given by us, then please share it to all your Friends. If you are Confused after Visiting our Site Then Contact us So that We Can Understand You better.


ई-कॉमर्स में खतरें

(Threats in E-Commerce) 

ई-कॉमर्स से तात्पर्य इंटरनेट पर उत्पादों/सेवाओं को खरीदने और बेचने की गतिविधि से है। वाणिज्यिक लेनदेन को व्यक्त करता है जो ऑनलाइन सम्पन्न किए जाते हैं। मोबाइल कॉमर्स मार्केटिंग, ऑनलाइन ट्रांजेक्शन प्रोसेसिंग, इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर, सप्लाई चेन मैनेजमेंट, इलेक्टॉनि डेटा इंटरनचेंज (EDI), इन्वेंटी मैनेजमेंट सिस्टम और ऑटोमेटेड डेटा कलेक्शन सिस्टम जैसी तकनीकों पर ई-कॉमर्स का ढांचा तैयार किया जाता है। चोरी, धोखाधड़ी और सरक्षा भंग के इरादे से अनुचित साधनों के लिए इंटरनेट का य ह ई-कॉमर्स के लिये खतरा उत्पन्न कर रहा है। विभिन्न प्रकार के ई-कॉमर्स खतरे हैं जिनमें कन आकस्मिक हैं, कुछ उद्देश्यपूर्ण हैं, और उनमें से कुछ मानवीय त्रुटि के कारण हैं। सबसे आम सभा, खतरे इलेक्ट्रॉनिक भुगतान प्रणाली, ई-कैश, डेटा का दुरूपयोग, क्रेडिट/डेबिट कार्ड धोखाधड़ी आदि हैं।

ग्राहकों और सेवा-प्रदाताओं की सुरक्षा 

(Security of Clients and Service-Providers) 

एक ई-कॉमर्स वेबसाइट की स्थापना अब पहले से उपलब्ध कई ओपन सोर्स साधनों की सहायता हो गई है। लेकिन साथ ही यह हैकर्स, स्पैमर और अन्य दुर्भावनापूर्ण व्यक्तियों के लिए एक आकर्षक लक्ष्य भी बन गया है जिसमें बहुत से अन्य ई-कॉमर्स सुरक्षा खतरे हैं।  ई-कॉमर्स मुख्य रूप से नेटवर्क पर और कंप्यूटर के माध्यम से व्यापार संचार और लेनदेन के संदर्भित करता है डिजिटल संचार के माध्यम से इलैक्ट्रॉनिक कॉमर्स सामान और सेवाओं की बिक्री और धन का हस्तांतरण है। इलैक्ट्रॉनिक कॉमर्स में वर्ल्ड वाइड वेब और इंटरनेट पर खरीदना और बेचना, इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर, स्मार्ट कार्ड, डिजिटल कैश और डिजिटल व्यापार करने के अन्य सभी तरीके शामिल हैं। ये सभी ई-तरीके ई-कॉमर्स के बिजनेस मॉडल अपनी सहायता देते हैं। जहां एक बड़ी फर्म विभिन्न ई-कॉमर्स सुरक्षा मुद्दों को ध्यान में रखती है, और इस तरफ ध्यान नहीं देते है क्योकि उनके पास संसाधन कम होते हैं। इस तरह के सुरक्षा खतरों का सारांश निम्नलिखित प्रकार है:

ई-कॉमर्स के खतरों का मुकाबला करने के तरीके.

(Ways to Combat E-Commerce Threats) 

ई-कॉमर्स सरक्षा विभिन्न ई-कॉमर्स परिसंपत्तियों को अनधिकृत पहुंच, इसके उपयोग या संशोधन ता है। पूरी तरह से कार्यान्वयन योजना को तैयार करना एक साइबर खतरे को कम करने के लिए कदम है। कल ई-कॉमर्स प्रथाएं हैं जिन्हें ऑनलाइन खरीदारी करते समय व्यक्तिगत जानकारी और सुरक्षा को अधिकतम करने के लिए किया जा सकता है। ई-कॉमर्स खतरों से निपटने के कुछ प्रमुख तरीके निम्नलिखित हैं:

  1. फर्म के दृष्टिकोण से (From Firm’s Perspective)

(i) सटीक प्रबंधन (Accurate Management)-ई-कॉमर्स खतरों के मूख्य कारणों में से एक खराब प्रबंधन व्यवस्था है। जब सरक्षा व्यवस्था कमजोर होती है, तो यह नेटवर्क और सिस्टम बहुत गम्भीर संकट बन जाता है। इसके अलावा सरक्षा खतरे तब उत्पन्न होते हैं जब एंटीना सॉफ्टवेयर लाइसेंस की खरीद के लिए पर्याप्त बजट आबंटित नहीं किए जाते हैं। (ii) एन्क्रिप्शन (Encryption) यह एक सामान्य टेक्स्ट को एन्कोडेड टेक्स्ट में बदलने प्रक्रिया है, जिसे मैसेज भेजने या प्राप्त करने वाले व्यक्ति के अलावा कोई भी नहीं पढ़ सकता है। (iii) डिजिटल सर्टिफिकेट होना (Having Digital Certificate)-यह एक डिजिटल सर्टिफिकेट है, जो एक विश्वसनीय थर्ड पार्टी कंपनी द्वारा जारी किया जाता है। एक डिजिटल प्रमाण सपना का नाम (केवल ईवी एसएसएल प्रमाणपत्र), सबसे महत्वपूर्ण डिजिटल प्रमाणपत्र का समाप्ति तिथि और जारी करने की तारीख शामिल होती है। EV SSL प्रमाणपत्र फर्म की वेबसाइट को उच्च स्तर का प्रमाणीकरण प्रदान करता है। इस तरह के प्रमाण पत्र का कार्य विशेष रूप से एक ई-कॉमर्स वेबसाइट को अवांछित हमलों जैसे कि मैन-इन-मिडिल हमले से बचाने के लिए है। इसके अलावा, विभिन्न प्रकार के एसएसएल प्रमाणपत्र उपलब्ध हैं (जैसे वाइल्डकार्ड एसएसएल, सैन एसजीसी, एक्सचेंज सर्वर सर्टिफिकेट, आदि) जो फर्म अपनी वेबसाइट की आवश्यकता के अनुसार चन सकते हैं। (iv) सुरक्षा ऑडिट करें (Perform a Security Audit)—फर्म की सुरक्षा प्रक्रियाओं की एक नियमित जाँच नियमित आधार पर की जानी चाहिए। सुरक्षा ऑडिट यह सुनिश्चित करने के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है कि क्या सिस्टम में कोई सुरक्षा चूक है यदि है तो इसे शुरूआत में ही दूर कर दिया जाना चाहिए। 

  1. ग्राहकों के दृष्टिकोण से (From Customer’s Perspective)

(i) वेबसाइट की विश्वसनीयता देखें (Check out the Reliability of the Website)—यदि यह एक वैध ई-कॉमर्स साइट है, तो अन्य ग्राहकों और यहां तक कि एक सोशल मीडिया उपस्थिति से भी इसकी समीक्षा होनी चाहिए। कीमतें बाजार दरों के अनुसार होनी चाहिए, और बहुत अधिक क्लिक शुल्क नहीं होने चाहिएँ। वेबसाइट पेशेवर होनी चाहिए, जिसमें ‘हमारे बारे में’ और ‘हमसे संपर्क करें विकल्प हो। इसके अलावा, वेबसाइट में सोशल मीडिया पेज भी होने चाहिएँ, जो पिछले ग्राहकों के दिए गए ऑर्डर की तस्वीरों और समीक्षाओं को व्यक्त करते हों।। (ii) ऑनलाइन अतिरिक्त विवरण प्रदान न करें (Do not Provide Extra Details Online) ग्राहकों को उनके आदेश के सम्बन्ध में अपडेट रखने के लिए एक ईमेल आवश्यक हो सकता है, लेकिन उन्हें सोशल मीडिया प्रोफाइल, या कोई अन्य जानकारी प्रदान करने की आवश्यकता नहीं है जिसमें बॉक्स के शीर्ष पर तारांकन नहीं है (*) उदाहरण के लिए, ड्राइवर की आईडी या आप सीमा देने की कोई आवश्यकता नहीं है। (iii) उन URL का उपयोग न करें जो सुरक्षित नहीं हैं (Do Not Use URLs that are not Safe)-ऑनलाइन वेबसाइट ब्राउज करते समय मूल नियम, विशेष रूप से ई-कॉमर्स वेबसाइट देखने के लिए यह है कि कोई URL एड्रेस बार पर HTTP या HTTPs का उपयोग कर रहा है या नहीं। HTTPS अधिक सुरक्षित है और इसमें स्पैम साइटों के प्रवेश करने की संभावना कम होती है। इसक अलावा. किसी को यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि ई-कॉमर्स वेबसाइट के पास एक प्रासंगिक URL हो। उदाहरण के लिए, जूते बेचने वाली ई-कामर्स साइट के लिये पैनकेक डॉट कॉम नाम की संभावना कम है। (iv) ई-कॉमर्स वेबसाइटों पर प्रॉक्सी का उपयोग करें (Use Proxies on E-commercs Websites)-प्रॉक्सी फायरवॉल नेटवर्क में सुरक्षा की एक अतिरिक्त परत जोडंते हैं, जो कंप्यूटर में प्रवेश करने वाले दुर्भावनापूर्ण कोड से इसे सुरक्षित बनाता है। यह विशेष रूप से ई-कॉमर्स वेबसाइटाप एक जोखिम है क्योंकि इसमें व्यक्तिगत और बैंक डेटा शामिल होता है। योग करने के अन्य तरीके लोगा, व्यक्ति या आनलाइन में किसी विशेष ग्राहक या साइट के साथ अपने अनुभवों के बारे में पूछना, समीक्षा पढ़ना और केवल उन वेबसाइटों पर भरोसा करना है जो ग्राहक स’ और समर्थन प्रदान करते हैं, और ग्राहक प्रतिक्रिया प्राप्त करते हैं।


Follow Me

Facebook

B.Com 1st 2nd 3rd Year Notes Books English To Hindi Download Free PDF

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*